बिहार की बहादुर बेटी ज्योति के साहस की कायल हुईं इवांका ट्रंप

0
142

पटना , रीना गुप्‍ता। हरियाणा के गुरुग्राम से अपने पिता को साइकिल पर बैठा कर 15 साल की एक किशोरी बिहार के दरभंगा पहुंच गई। जब यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हुई व मीडिया के माध्यम से सामने आई तो अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ने खुश होकर बिहार की बेटी ज्योति कुमारी की तस्वीर ट्वीट करते उसके जज्बे को सलाम कहा।

इवांका ट्रंप ने अपने ट्वीट में लिखा कि 15 साल की ज्योति कुमारी अपने जख्मी पिता को साइकिल पर बैठा कर सात दिनों में 1,200 किमी दूरी तय करके अपने गांव ले गई। यह भारतीयों की सहनशीलता और उनके अगाध प्रेम भावना का परिचायक है।

ज्योति कुमारी को किया गया सम्मानित

बता दे कि ‘बेटी बनी श्रवण कुमार’, ये लाइनें ईटीवी भारत ने दरभंगा की ज्योति के लिए लिखी थीं, जो लॉकडाउन के दौरान अपने घायल पिता को गुरुग्राम से लेकर बिहार के दरभंगा पहुंची थी। ज्योति के इस साहसिक कदम को देखते हुए डीएम से लेकर कई जनप्रतिनिधियों ने उसे सम्मानित किया है। इसके बाद अब ज्योति को भारतीय साइकिलिंग फेडरेशन (सीएफआई) ने ट्रायल के लिए बुलाया है। फेडरेशन के चेयरमैन वीएन सिंह ने ये ऑफर दिया है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें