भुखमरी के कगार पर आए बिहार के एक मजदूर को एसएसबी ने किया सहयोग

0
166

नारद डेस्‍क। राजधानी में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। इससे बचने व इस महामारी से बचाने के ल‍िये पुल‍िस व डॉक्‍टर लगातार काम कर रहे है। वहीं अब इसी क्रम में सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) ने भी काम करना शुरू कर द‍िया। एसएसबी ने टिकारी थाना, गया, बिहार क्षेत्र के ढिहुरी गांव निवासी मोहम्मद शाफिक आलम जोकि लॉकडॉन में छतरपुर दिल्ली में भुखमरी के कगार पर पहुंच गया था उसको एसएसबी ने राशन उपलब्ध करवाकर सहयोग किया।
रव‍िवार को जानकारी देते हुए एसएसबी के एक अधि‍कारी ने बताया क‍ि मोहम्मद शाफिक आलम वर्तमान में दिल्ली के छतरपुर में रहकर किसी साड़ी की फैक्ट्री में काम कर रहा था।

लॉकडॉन के कारण साड़ी की फैक्ट्री बंद हो गई और उसकी आर्थिक स्थिति काफी दयनीय हो गई। जिसके कारण वह और उनके परिवार भुखमरी के कगार पर पहुंच गया। अध‍िकारी के अनुसार, किसी माध्यम से मोहम्मद शफीक आलम ने सशस्त्र सीमा बल के पटना फ्रंटियर के आई जी से संपर्क किया, आईजी ने 29 वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल गया के कमांडेंट राजेश कुमार को निर्देशित किया कि उपयुक्त व्यक्ति को यथासंभव राशन मुहैया कराने का प्रयास क‍िया जाए। नि‍र्देश के तुरंत बाद 29 वाहिनी के सहायक कमांडेंट सुमन सौरभ जो कि दिल्ली में कानून एवं व्यवस्था ड्यूटी में अपनी कंपनी के साथ में वर्तमान हैं। बल ने रव‍िवार सुबह शाफिक आलम से मुलाकात कर उसको चावल 10 किलो, दाल 2 क‍िलो, मसाले के पैकेट ,सरसों तेल, नमक, आलू, , प्याज ,चीनी 2,सोयाबीन इत्यादि राशन उपलब्ध करवाया। सशस्त्र सीमा बल द्वारा अपने क्षेत्र से बाहर भी लगातार सहयोग करने की बात सामने आ रही है। वहीं बल की सहयता पर मोहम्मद शाफिक आलम आभार प्रकट किया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें