इतना बड़ा दिल रखना तो कोई इस व्यापारी से सीखे

0
517

नारद डेस्क। पिछले लंबे समय से भारत समेत पूरी दुनिया में कोरोना महामारी फैली हुई है और इसका दंश आम से लेकर खास सभी को डस चुका है। जिसका सबसे बुरा असर प्रवासी मजदूरों, यहां किराए पर रहने वाले और रोज कमाने, खाने वाले लोगों पर पड़ा है। ऐसे में सरकार समेत बहुत से सोशल वर्करों ने भी हाथ आगे बढ़ाया और अपना निजी स्वार्थ छोड़ते हुए लोगों की मदद की है। दिल्ली में भी ऐसे ही एक मददगार सामने आए।

जिन्होंने लोगों की खूब मदद की और अब जब उनके किरायेदारों ने उनसे किराया माफ करने की बात कही तो इस मददगार ने अपने सभी किरायेदारों का किराया ही माफ कर दिया। इस सोशल वर्कर का नाम नीरज असड़ी बताया गया है। जो दिल्ली के टैंक रोड मार्किट के एक्टिव सोशल वर्कर हैं और वहां रहकर अपना कपड़ों का कारोबार करते हैं।

यहां रहने वाले नाज़िम ने बात करते हुए बताया कि मैं टैंक रोड की शिव गली का दुकानदार हूँ। मैं नीरज असड़ी के यहां किराये पर रहता हूं। चूंकि पिछले कईं महीनों से हमारा कारोबार ठप्प पड़ा है, इसलिए अब मजबूरी में आकर हमने अपने मकान मालिक से किराये के लिये बात की और उन्होंने मेरी बात सुनते ही मेरे सहित अपने सभी 10, 12 किरायेदारों का दो महीने का किराया माफ कर दिया, इतना ही नहीं नीरज असड़ी ने अगले दो महीने का किराया 50 फीसदी कम कर दिया। जिससे हमें बहुत बड़ी राहत मिली है। उनके इस उपकार को हम जीवनभर नहीं भुला सकते।

मकान मालिक नीरज असड़ी ने इस बात की पुष्टि करते हुए बताया कि इस कोरोना महामारी के समय में जब पूरा देश परेशानी में है तो हम जैसे लोगों को अपना निजी स्वार्थ छोड़ना ही सबसे बड़ी इंसानियत है। इसके साथ ही नीरज ने कहा कि मेरी सभी दिल्ली समेत देशवासियों के मकान मालिकों से अपील है कि वे भी थोड़ा धैर्य रखें और हो सके तो इन प्रवासी मजदूरों व अपने किरायेदारों का किराया माफ कर दें।

आपको बता दें कि नीरज असड़ी पिछले बीस वर्षों से टैंक रोड स्थित कपड़ा मार्किट में डेनिम जीन्स का कारोबार कर रहे हैं और नीरज समाज सेवा में अग्रसर रहते हैं। इनके दादा लेट श्रीराम लाल असड़ी भी दिल्ली की आजाद मार्किट स्थित शीश महल में धर्म कर्म का कार्य करते थे। इस तरह नीरज असड़ी का पूरा परिवार लोगों की खूब मदद करता रहता है। इस मुश्किल घड़ी में नीरज जैसे तमाम लोगों को उनकी समाज सेवा के लिए याद रखा जाएगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें